नदी,झील,पर्वत,रेगिस्तान,पठार,और घास के मैदान आदि-एशिया और यूरोप(Rivers,Lake,Mountain,Desert and Grassland etc.-Asia and Europe)

एशिया सबसे बड़ा महाद्वीप है । और 6 भागों में विभाजित है ।

  • उत्तरी एशिया
  • दक्षिणी एशिया
  • पश्चिमी एशिया
  • पूर्वी एशिया
  • मध्य एशिया
  • दक्षिण पूर्वी एशिया


भारत दक्षिण एशिया में आता है ।

मैप देखकर इन भाग में आने वाले देशों के नाम लिख लीजिये।


एशिया में रूस में साइबेरिया का रेगिस्तान स्थित है और यह एक ठंडा रेगिस्तान है तथा दुनिया के सबसे लम्बी रेलवे लाइन इसी रेगिस्तान से होकर गुजरती है जो सेंट पिट्सबर्ग से रुस के एकदम पूर्वी छोर व्लादिवोस्तोक तक जाती है इसका नाम ट्रांस साइबेरियन रेलवे है जो लगभग 9,289 km लम्बा है । यहाँ से ठंडी हवाएं मंगोलिया और चीन होते हुए भारत की तरफ आती है परन्तु हिमालय के होने के वजह से ये हवाएं भारत में प्रवेश नहीं कर पाती।
यही से हर वर्ष लाखों की संख्या में साइबेरियन क्रेन पक्षी भारत प्रवास करने आते है


रेगिस्तानों में मंगोलिया का गोबी डेजर्ट,चीन का तकला माकन,अरब का अल नफूद और दश्त-ए -लूट,भारत में थार का रेगिस्तान,पामीर का पठार तथा तिब्बत का पठार शामिल है – तिब्बत के पठार से एशिया की कुल जल आपूर्ति (60 प्रतिशत) यहाँ से निकलने वाली नदियाँ करती है|
यही से एशिया की सबसे लम्बी नदी यांग्त्सीक्यांग निकलती है तथा भारत की नदी सिंधु ,सतलज, तथा ब्रह्मपुत्र आदि नदियाँ भी यही से निकलती है ब्रह्मपुत्र को तिब्बत में सांगपो कहा जाता है । ये पूर्ववर्ती नदियाँ है अर्थात ये हिमालय के निर्माण के पहले से है ।
इराक में दजला फरात(Euphrates Tigris) नदी,म्यांमार में साल्वीन ,इरविन तथा चिंदविन नदी,मध्य एशिया में सर दरया और अमु दरया नदी,झीलों में रूस की बैकाल झील जो दुनिया की सबसे गहरी झील है तथा मीठे पानी का 20 प्रतिशत स्रोत है ।मध्य एशिया में अराल सागर जो अब लगभग सुख चूका है । ईरान में उर्मिया झील जो खारे पानी की झील है, वान झील जो तुर्की में स्थित है ,दुनिया की सबसे खारे पानी की झील है इस झील की लवणता 330 है ।तथा इजराइल और जॉर्डन की सीमा पर स्थित डेड सी जो एशिया का सबसे गहनतम बिंदु है ,दुनिया का सबसे उच्चतम बिंदु एशिया में Mt. एवेरस्ट है जो नेपाल और चीन की सीमा पर स्थित है, नेपाल में इसे सागरमाथा कहते है ।

यूरोप(Europe)

नीचे दिए गए मैप से यूरोप का अध्ययन करे ।

I hope you enjoy the article,Keep Learning.

Thank you.

2 Replies to “नदी,झील,पर्वत,रेगिस्तान,पठार,और घास के मैदान आदि-एशिया और यूरोप(Rivers,Lake,Mountain,Desert and Grassland etc.-Asia and Europe)”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *