नदी, झील, पर्वत, रेगिस्तान, स्थानीय हवाएं तथा घास के मैदान- अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया(Rivers,Lakes,Mountains,Local wind and Grassland- Africa and Australia)

इस टॉपिक में हम अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप के बारे में उपरोक्त तथ्यों को जानेंगे

केवल अफ्रीका ऐसा महाद्वीप है जहा से कर्क रेखा ,विषुवत रेखा और मकर रेखा तीनों गुजरती है|

अफ्रीका महाद्वीप में संसार का सबसे बड़ा मरुस्थल (Desert) सहारा स्थित है ।
इसके अतिरिक्त साहेल और कालाहारी रेगिस्तान है
नदियों में मुख्य रूप से संसार के सबसे लम्बी नदी नील है ।
तथा नाइज़र नदी,कांगो नदी (विषुवत रेखा को दो बार काटने वाली),लिंपोपो नदी (मकर रेखा को दो बार काटने वाली),जाम्बेजी नदी,ऑरेंज नदी आदि प्रमुख है।
झीलों में विक्टोरिया झील जहां से नील नदी का उद्गम होता है ।
मलावी झील ,टंगनिका झील ,न्यासा झील और चाड झील आदि प्रमुख है ।

अफ्रीका महाद्वीप में उष्ण कटिबंधीय घास के मैदान को “सवाना” कहा जाता है ,
तथा इसके देश दक्षिण अफ्रीका में घास के मैदानों को “वेल्ड” कहा जाता है।

अफ्रीका के स्थानीय हवाओं में हरमट्टन,खमसिन ,हबूब ,केप डॉक्टर ,शिराको आदि शामिल है ।

ऑस्ट्रेलिया(Australia)

तथ्यों को नोट्स में लिख ले और मैपिंग के द्वारा याद करे।
यहाँ आनेवाले चक्रवात को विलिविली कहा जाता है ।

learn these facts using maps.

Thank you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *